इथोपियाई विमान के कंट्रोल सिस्टम में आई थी दिक्कत, जांच के लिए यूरोप भेजा जाएगा ब्लैक बॉक्स

10
SHARE

Naidunia

Publish Date:Thu, 14 Mar 2019

रविवार को दुर्घटनाग्रस्त हुए इथोपियन एयरलाइंस के बोइंग 737 मैक्स 8 के विमान के कंट्रोल सिस्टम में दिक्कत पैदा हो गई थी। एयरलाइंस ने बुधवार को यह जानकारी दी। इथोपियन एयरलाइंस के प्रवक्ता असरत बेगशाव ने कहा कि पायलट ने विमान के कंट्रोल में समस्या की बात कही थी। उसने वापस लौटने का अनुरोध किया था, उसे लौटने के लिए कह भी दिया गया था।

इथोपिया ने कहा कि वह विमान के ब्लैक बॉक्स को जांच के लिए यूरोप भेजेगा, ताकि हादसे के कारणों का सही-सही पता लगाया जा सके। हालांकि, किस देश को ब्लैक बॉक्स भेजा जाएगा, यह भी तय नहीं है। ब्लैक बॉक्स से हादसे को लेकर अभी बहुत कुछ पता नहीं चल पा रहा है। हादसे के बाद दुनिया भर में बोइंग 737 मैक्स 8 विमानों को लेकर डर पैदा हो गया है और बड़ी संख्या में देशों ने अपने यहां इन विमानों के परिचालन पर रोक लगा दी है।

प्रवक्ता ने कहा कि हादसे का शिकार हुए विमान में सवार किसी भी यात्री का शव नहीं मिला है। दुर्घटनास्थल से सिर्फशवों के अवशेष मिले हैं। बताते चलें कि बोइंग 737 विमान के पिछले पांच महीने में दूसरी बार हादसे का शिकार हुआ है। इससे पहले पिछले साल अक्टूबर में लायन एयरलाइन का इसी सीरीज एक विमान इंडोनेशिया में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसमें 180 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी।

गौरतलब है कि 10 मार्च को इथोपिया की राजधानी अदीस अबाबा से उड़ान भरने के कुछ देर बाद ही इथोपियन एयरलाइंस का बोइंग 737 मैक्स विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। विमान में सवार क्रू के आठ सदस्यों के साथ ही सभी 157 लोगों की मौत हो गई। मृतकों में 33 देशों के यात्री शामिल हैं। इस हादसे के बाद ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, अर्जेंटीना, फ्रांस, चीन, जर्मनी, अमेरिका, तुर्की, नॉर्वे, दक्षिण कोरिया, सिंगापुर, मलेशिया, अर्जेंटीना और भारत सहित कई देशों ने बोइंग विमानों की उड़ानों को रोक दिया था।

भारत में बढ़ा किराया

बोइंग 737 मैक्स 8 विमानों पर उड़ान पाबंदी का असर स्पाइसजेट की उड़ानों पर पड़ेगा, जिसके 12 मैक्स विमान खड़े कर दिए गए हैं। जेट एयरवेज के पांच विमान पहले से लीज रेंट अदा न करने के कारण खड़े हैं। ऐसे में दर्जनों उड़ानें रद्द होने की संभावना है। वहीं दूसरी तरफ होली के कारण जहां ट्रेनों में भीड़ है वहीं हवाई यात्रा के किराए भी आसमान छूने लगे हैं।

विमानन सचिव प्रदीप सिंह खरोला ने कहा कि “गुरुवार को 30-35 उड़ानें प्रभावित हो सकती हैं। हवाई किराया भी 60 फीसद तक बढ़ गया है। इसका फायदा एयर इंडिया, विस्तारा, गो एयर और इंडिगो को हो रहा है। होली के कारण पहले ही किराए बढ़ रहे थे। दिल्ली-मुंबई रूट के किरायों में 50 फीसद और दिल्ली-चेन्नई के किराए में दो गुना तक बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। इसे देखते हुए सरकार ने एयरलाइनों से किराए को काबू में रखने की अपील की है।