Serial Blasts In Sri Lanka LIVE: 35 विदेशी नागरिकों समेत 156 की मौत

15
SHARE

Jagran

Publish Date:Sun, 21 Apr 2019

Serial Blasts In Sri Lanka: इस्टर के मौके पर श्रीलंका सीरियल बम धमाकों से दहल गया। राजधानी कोलंबो समेत कई जगहों पर हुए सीरियल बम धमाकों में 156 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की गई है। मरने वालों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। राजधानी कोलंबो से फिर दो धमाकों की खबर आ रही है। बताया जा रहा है कि ये सतवां धमाका दक्षिणी कोलंबो के देहिवाला में एक होटल में हुआ है, जिसमें 2 लोगों की मौत हो गई है। आठवें धमाके की फिलहाल पूरी जानकारी सामनेे नहीं आई है।

खबरों के मुताबिक श्रीलंका के पुलिस प्रमुख ने 10 दिन पहले ही देश भर में आत्मघाती हमलो को लेकर अलर्ट जारी किया था। अलर्ट में कहा गया था कि आत्मघाती हमलावर प्रमुख चर्चों को निशाना बना सकते है। रिपोर्ट के मुताबिक श्रीलंकाई कट्टरपंथी समूह नेशनल थोहीथ जमात (NTJ) प्रमुख चर्चों के साथ-साथ कोलंबो में भारतीय उच्चायोग को निशाना बनाते हुए आत्मघाती हमलों को अंजाम देने की योजना बना रहा है। बता दें कि नेशनल थोहीथ जमात श्रीलंका में एक कट्टरपंथी समूह है, जिसने पिछले साल बौद्ध प्रतिमाओं को विध्वंस किया था।

बताया जा रहा है कि इस दौरान 3 चर्च समेत 6 जगहों को निशाना बनाया गया। इसाइयों को निशाना बनाते हुए चर्च में हुए इन धमाको में 400 से ज्यादा लोगों के घायल होने की भी खबर है। अस्पताल के सूत्रों ने कहा कि विस्फोटों में अब तक कोलंबो में 42, नेगोंबो में 60 और बट्टिकालोआ में 27 लोग मारे गए हैं।

श्रीलंका में इससे पहले बम धमाकों का इतिहास लिट्टे युग का ही है। देश में आखिरी बार बड़ा हमला साल 2006 में हुआ था। आज से 13 साल पहले 16 अक्टूबर 2006 को दिगमपटाया नरसंहार में करीब 112 लोगों की हत्या की गई थी। लिट्टे से जुड़े उग्रवादियों ने श्रीलंकाई सेना को निशाना बनाकर एक ट्रक को सेना की 15 गाड़ियों के काफिल में घुसा दिया था।

वहीं, धमाकों के बाद श्रीलंका के प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने आपात बैठक बुलाई। सुरक्षा को देखते हुए कोलंबो में सेना के 200 जवानों को भी तैनात किया गया है। श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने धमाकों पर शोक जताते हुए लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने सुरक्षा एजेंसियोँ को जल्द जांच कर हमले के दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा है।

श्रीलंका के कोलंबो में हुए सीरियल ब्लास्ट पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर कहा है कि हम पूरे हालात पर नजर बनाए हुए है।

जिन तीन चर्च में धमाका हुआ उनमे कोलंबो का सेंट एंटनी चर्च, पश्चिमी तटीय शहर नेगोंबो में सेंट सेबेस्टियन चर्च और पूर्वी शहर बट्टिकालोआ के एक चर्च को निशाना बनाया गया। इसके अलावा जिन तीन होटलों को निशाना बनाया गया, उनमें पांच सितारा होटल, शांगरीला, द सिनामॉन ग्रैंड और द किंग्सबरी शामिल है

पुलिस के मुताबिक 8 बजकर 45 मिनट पर पहला धमाका हुआ। लगातार कई जगहों पर हुए धमाकों की वजह से अफरा-तफरी का माहौल है। बताया जा रहा है कि धमाकों में सबसे ज्यादा मौत कोलंबो में हुई है। घायलों का कोलंबो के नेशनल हॉस्पिटल मेंंइलाज चल रहा है। स्थानीय पुलिस ने बताया कि ये धमाका उस वक्त हुआ जब प्रर्थना के लिए लोग चर्च में जमा हुए थे। फिलहाल अभी तक किसी आतंकी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।