Cricket World Cup Ind vs SA: रोहित के शतक से भारत का विजयी आगाज, द. अफ्रीका की लगातार तीसरी हार

4
SHARE

Naidunia

Updated:Wed, 05 Jun 2019

रोहित शर्मा के नाबाद शतक (122) से भारत ने बुधवार को क्रिकेट वर्ल्ड कप में दक्षिण अफ्रीका को 6 विकेट से हरा दिया। द. अफ्रीका ने 9 विकेट पर 227 रन बनाए। इसके जवाब में भारत ने 15 गेंद शेष रहते 4 विकेट खोकर जीत हासिल की। इसी के साथ भारत ने वर्ल्ड कप में विजयी आगाज किया। दूसरी तरफ दक्षिण अफ्रीका की यह लगातार तीसरी हार है। मैन ऑफ द मैच रोहित का यह वर्ल्ड कप इतिहास में दूसरा और इंटरनेशनल वनडे में 23वां शतक है।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे भारत के लिए शिखर धवन और रोहित शर्मा ने संभलकर शुरुआत की। पारी के छठे ओवर में रबाडा ने शिखर को विकेट के पीछे क्विंटन डी कॉक के हाथों कैच कराया। शिखर ने 8 रन बनाए। विराट कोहली 18 रन बनाकर एंडिले फेहलुकवायो की ऑफ स्टंप की बाहर की गेंद को छेड़ने के प्रयास में विकेटकीपर क्विंटन डी कॉक द्वारा लपके गए। भारत को दूसरा झटका 54 के स्कोर पर लगा। रोहित ने तबरेज शम्सी की गेंद पर 1 रन लेकर फिफ्टी पूरी की। यह उनकी 42वीं इंटरनेशनल वनडे फिफ्टी हैं। वे 70 गेंदों में 4 चौकों और 2 छक्कों की मदद से फिफ्टी तक पहुंचे।

रोहित ने इसके बाद केएल राहुल के साथ तीसरे विकेट के लिए 85 रनों की भागीदारी कर पारी को संभाला। राहुल 26 रन बनाकर रबाडा की गेंद पर फॉफ डु प्लेसिस को कैच थमा बैठे। रोहित ने शम्सी की गेंद पर 1 रन लेकर शतक पूरा किया। वे 128 गेंदों में 10 चौकों और 2 छक्कों की मदद से शतक तक पहुंचे। रोहित जब 107 रनों पर थे तब रबाडा की गेंद पर डेविड मिलर ने उनका आसान कैच छोड़ा। महेंद्रसिंह धोनी 34 रन बनाकर क्रिस मॉरिस की गेंद पर उन्हें रिटर्न कैच थमा बैठे। इसके बाद रोहित के साथ मिलकर हार्दिक (15 नाबाद) ने टीम को जीत दिलाई। रोहित 144 गेंदों में 13 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 122 रन बनाकर नाबाद रहे।

इससे पहले दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। जसप्रीत बुमराह ने उसकी शुरुआत बिगाड़ी जब हाशिम अमला 6 रन बनाकर उनकी गेंद पर दूसरी स्लिप में रोहित शर्मा को कैच दे बैठे। बुमराह ने इसके बाद क्विंटन डी कॉक (10) को तीसरी स्लिप में विराट के हाथों झिलवाया। इसके बाद कप्तान प्लेसिस के साथ रासी वान डर डुसैन ने तीसरे विकेट के लिए 54 रनों की भागीदारी कर पारी को संभालने की कोशिश की। डुसैन ने युजवेंद्र चहल की गेंद को रिवर्स स्विप करने का प्रयास किया और वे बोल्ड हो गए। उन्होंने 22 रन बनाए। चहल ने इसी ओवर की अंतिम गेंद पर कप्तान प्लेसिस (38) को बोल्ड कर अपनी टीम का पलड़ा भारी कर दिया।

अब उम्मीदें अनुभवी जेपी डुमिनी पर टिक गई थी लेकिन वे कुलदीप की फ्लाइटेड गेंद को ठीक से समझ नहीं पाए और 3 रन बनाकर एलबीडब्ल्यू हो गए। उन्होंने रिव्यू लिया लेकिन फैसला उनके खिलाफ ही रहा। द. अफ्रीका 89 रनों पर 5 विकेट खोकर गहरे संकट में आ गया। मिलर के पास अपनी प्रतिभा दिखाने का अच्छा मौका था लेकिन वे 31 रन बनाने के बाद चहल की गेंद पर उन्हें रिटर्न कैच दे बैठे। एंडिले फेहलुकवायो ने कुछ अच्छे स्ट्रोक्स खेलकर रन बनाए लेकिन वे चहल की गेंद को आगे निकलकर खेलने के प्रयास में चूके और विकेटकीपर धोनी ने उन्हें स्टंप कर दिया। उन्होंने 2 चौकों और 1 छक्के की मदद से 34 रन बनाए। क्रिस मॉरिस (42) और रबाडा ने आठवें विकेट के लिए 66 रन जोड़कर स्कोर को चुनौतीपूर्ण बनाया। मॉरिस को भुवी ने चलता किया। चहल ने 51 रनों पर 4 विकेट लिए। भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमरान ने 2-2 विकेट लिए।

टीम इंडिया इस मैच को जीतकर वर्ल्ड कप में विजयी आगाज करना चाहेगा जबकि लगातार दो मैच हार चुका द. अफ्रीका पहली जीत के लिए बेताब रहेगा। भारत ने अपने पहले मैच के लिए दिनेश कार्तिक, विजय शंकर, रवींद्र जडेजा और मोहम्मद शमी को प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं किया। द. अफ्रीका ने पिछले मैच की टीम में दो बदलाव कर एडम मार्करैम की जगह हाशिम अमला को और लुंगी नजीडी की जगह तबरेज शम्सी को शामिल किया।

द. अफ्रीकी टीम खिलाड़ियों की फिटनेस से जूझ रही हैं। डेल स्टेन कंधे की चोट के चलते वर्ल्ड कप से बाहर हो चुके हैं जबकि लुंगी नजीडी हैमस्ट्रिंग की चोट के कारण 10 दिनों के लिए बाहर है और इस मैच में नहीं खेलेंगे। हाशिम अमला चोट से उबर चुके है और टीम में मार्करैम की जगह उनकी वापसी हुई।

वर्ल्ड कप में द. अफ्रीका का पलड़ा भारी : वर्ल्ड कप में इनके बीच अभी तक चार मैच हुए, इनमें से तीन मैच द. अफ्रीका ने जीते जबकि भारत एक मैच ही जीत पाया है। इनके बीच वनडे में 83 मैच हुए जिनमें से द. अफ्रीका ने 46 और भारत ने 34 मैच जीते हैं। इनके 3 मैच बेनजीता रहे।

टीमें – भारत : शिखर धवन, रोहित शर्मा, विराट कोहली (कप्तान), केएल राहुल, महेंद्रसिंह धोनी, केदार जाधव, हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, जसप्रीज बुमराह।

द. अफ्रीका : क्विंटन डी कॉक, हाशिम अमला, फॉफ डु प्लेसिस (कप्तान), रासी वान डर डुसैन, जेपी डुमिनी, एंडिले फेहलुकवायो, क्रिस मॉरिस, तबरेज शम्सी, कगिसो रबाडा, इमरान ताहिर।